Thursday, June 13

वनटॉगिया ग्राम महोत्सव सीएम की सराहनीय पहल

Pinterest LinkedIn Tumblr +

आजादी के बाद शायद पहली बार उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा वनटॉगिया समुदाय को सही पहचान और सरकार की योजनाओं का लाभ उन तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है। बताते है कि मुख्यमंत्री जी की भावनाओं से जुड़े उनके अत्यंत निकट वनटॉगिया समुदाय को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए यूपी का सीएम बनने के बाद से ही उन्होंने प्रयास शुरू कर दिये थे। लेकिन इस बार आज 9 नवंबर से डीएम नेहा शर्मा के नेतृत्व में गौंडा के विकास खंड नवाबगंज के अंर्तगत आने वाले ग्राम रामगढ़ के महेशपुर में ये आयोजन किया जा रहा है। जिसे सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग पंयायती राज कृषि विभाग महिला कल्याण एवं बाल पुष्ट आहार विभाग आदि द्वारा भरपूर प्रयास किये गये है। बताया जा रहा है कि दिपावली के उपलक्ष में यहां के निवासियों को कई सरकारी विभागों के स्टॉल लगाकर अधिकारी उनके लिये चलाई जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी देने के साथ ही उन्हें मौके पर ही आधार कार्ड आयुष्मान कार्ड आदि के साथ ही दिपावली उपहार भी दिये जाएंगे।
इस संदर्भ में प्राप्त एक खबर के अनुसार प्रदेश के सबसे पिछड़े समुदाय को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने की दिशा में योगी सरकार ने पहल करते हुए, वनटांगिया समुदाय के जीवन में रोशनी और खुशियां पहुंचाने की ठानी है. वनटांगिया समुदाय सीएम योगी आदित्यनाथ के दिल के बेहद करीब बताते है. प्रदेश में पहली बार वनटांगिया ग्राम महोत्सव का आयोजन आज हुआ. धनतेरस से एक दिन पहले वनटांगिया ग्राम में जाकर समुदाय के लोगों को सरकार की विभिन्न योजनाओं से अफसरों व जनप्रतिनिधियों द्वारा लाभान्वित कराया जाएगा साथ ही दीपावली के उपलक्ष्य में उन्हें पोषण किट, वस्त्र, मिठाई, अन्य खाद्य सामग्री भेट की जाएगी.
वनटांगिया ग्राम महोत्सव का आयोजन मेले में लोगों का के लिए सुबह 10 बजे से क्रियाशील हुआ और दोपहर 03 बजे ग्रामवासियों के साथ संवाद एवं सामग्री का वितरण करते हुए प्रकाश पर्व मनाया गया. डीएम नेहा शर्मा की देखरेख में हुए महोत्सव में वनटांगिया समुदाय से जुड़े पात्र लोगों को पेंशन, आवास, शौचालय, आधार कार्ड व आयुष्मान कार्ड सहित अन्य शासकीय योजनाओं के ऑनलाइन आवेदन कराने की भी व्यवस्था की गई थी. बताते चले कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद ही वनटांगिया गांवों की तस्वीर बदलनी शुरू हो गई. सीएम योगी खुद हर साल वनटांगिया गांव में जाकर दीपावली का त्योहार मनाते रहे हैं.
वैसे तो सरकार और हर क्षेत्र के चुने हुए जनप्रतिनिधि अपने अपने हिसाब से अपने क्षेत्र और प्रदेश के लोगों के हित में काम कर ही रहे है लेकिन पहली बार मुख्यमंत्री के प्रयासों से वनटॉगिया समुदाय के बारे में छपी खबर से पता चला। और समाचार पढ़ने से ये बात सामने आई कि इस समुदाय के उत्थान और इसे हर सरकारी लाभ उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हर संभव प्रयास कर रहे है। जिसे देखकर यह कहा जा सकता है कि अब ये समुदाय गुमनाम नहीं प्रदेश में चर्चित व जागरूक होगा और धीरे धीरे मुख्यमंत्री जी द्वारा जो इसे जगाने का प्रयास किया गया है उसे ये अपने अधिकारों के प्रति सर्तक होगा और इसकी भावी पीढ़ी खुशहाल होगी यह बात विश्वास के साथ कहते हुए मैं माननीय मुख्यमंत्री जी को इस प्रयास के लिए बधाई देता हूं और आशा करता हूं कि उनसे प्रेरणा लेकर और दलों के राजनेता भी वनटॉगिया जैसे गुमनाम समुदाय के साधन विहिन लोगों की खोज कर उन्हें समाज की मुख्यधारा में लाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का सबको न्याय दिलाने का सपना साकार करेंगे।
प्रस्तुति लेखः अंकित बिश्नोई पूर्व सदस्य यूपी मजीठिया बोर्ड राष्ट्रीय महामंत्री सोशल मीडिया एसोसिएशन एसएमए संपादक पत्रकार

Share.

About Author

Leave A Reply