Wednesday, May 22

सेक्स रैकेट की सूचना पर पुलिस ने मारी रेड, कमरों में आपत्तिजनक हालत में मिले लड़के-लड़कियां

Pinterest LinkedIn Tumblr +

कानपुर 05 अक्टूबर (प्र)। उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस ने सेक्सरैकेट का पर्दाफाश किया। कानपुर के फीलखाना थाना क्षेत्र के मॉल रोड स्थित एक होटल में गत दिवस छापा मारा। छापेमारी के दौरान पुलिस को संदिग्ध अवस्था में लड़के- लड़किया मिले। पुलिस ने मौके से तीन लड़कियों समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया। होटल मालिक को हिरासत में लेकर पूछताछ की ।

पुलिस ने गोपनीय सूचना के आधार पर छापेमारी की। एडीसीपी पूर्वी आकाश पटेल ने बताया कि पिछले कई दिनों से फीलखाना स्थित एक होटल में सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिल रही थी। सूचना के आधार पर उन्होंने फीलखाना पुलिस फोर्स के साथ बुधवार दोपहर होटल में छापा मारा। पुलिस को मौके से तीन कॉलगर्ल, दो सौदा कराने वाले दलाल और दो ग्राहक मिले।

पुलिस ने बताया कि कानपुर के फीलखाने में जिस्मफरोशी का कारोबार चल रहा था। छापेमारी के दौरान उन्होने मौके से होटल मालिक अश्विनी गुप्ता उर्फ अंशु, दलाल शुक्लागंज निवासी दयाशंकर तिवारी, दलाल किदवईनगर निवासी पूजा दुबे, होटल कर्मचारी रामकिशन गौतम व ग्राहक जितेंद्र कुमार के रूप में हुई है।पुलिस ने मौके से भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री बरामद की है। पुलिस ने होटल से नौ मोबाइल फोन सहित कैश बरामद किया। एडीसीपी आकाश पटेल ने बताया कि होटल के लाइसेंस संबंधित जानकारी हासिल की जा रही है। इसके साथ ही इसे सीज करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्जकर लिया गया ।
मौके से पकड़ी गई, कॉल गर्ल से जब पुलिस ने पूछताछ की, तो कॉल गर्ल्स ने इस जिस्मफरोशी के धंधे में काम करने की वजह बताई। तीनों लड़कियों आसपास के क्षेत्र की है। तीनों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि एक युवक उनकी मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें इस धंधे में ले आया था। लड़कियों ने पुलिस को बताया कि किदवईनगर निवासी एक महिला अन्य लड़कियों को भी होटल में लाती थी। पुलिस अब उस युवक की भी तलाश कर रही है। उन्हें आरोपी नहीं बनाया गया है।

एडीसीपी ने बताया कि होटल किसी अन्य व्यक्ति का है। समरजीत नाम का व्यक्ति किराये पर लेकर उसमें सेक्स रैकेट चलवा रहा था। लेकिन इस बात की जानकारी होटल मालिक को भी थी। शुक्लागंज निवासी दयाशंकर और किदवईनगर निवासी एक महिला ग्राहकों को लाते थे। आरोपी मौके से फरार है।

मौके से पकड़ी गईं तीनों कॉलगर्ल को पुलिस ने दोषी नहीं माना है। तीनों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि एक युवक उनकी मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें इस धंधे में ले आया था। पुलिस अब उस युवक की भी तलाश कर रही है। सेक्ट रैकेट के मामले में पकड़े गये आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पकड़ी गईं लड़कियां स्थानीय हैं। कुछ लड़कियां उन्नाव जिले की हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply