Saturday, July 20

अस्पताल में इलाज के दौरान छात्रा की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 29 सितंबर (प्र)। पल्लवपुरम में उपचार के दौरान अस्पताल में छात्रा की मौत हो गई। परिजनों ने डॉक्टरों पर इलाज में लापरवाही बरतने के चलते हत्या करने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। मामले की जानकारी पर पहुंची पुलिस से छात्रा के परिवार वालों की नोकझोंक हो गई। घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस ने पीड़ित परिवार को समझाकर शांत किया। परिवार वालों ने हॉस्पिटल के संचालक और डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

मुजफ्फरनगर के अलमासपुर निवासी तन्नू सैनी 19 वर्ष पुत्री सुनील सैनी बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। तन्नू को बुधवार को पेट में दर्द के चलते पल्लवपुरम के शिवलोक हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां उपचार के दौरान हालत बिगड़ने के चलते तन्नू की मौत हो गई। जानकारी मिलने पर परिवार वालों ने हॉस्पिटल के अंदर जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी पर पुलिस भी अस्पताल पहुंच गई और परिवार वालों को समझने का प्रयास करने लगी। जिसके चलते मृतक छात्रा के परिवार वालों से पुलिस की कहासुनी हो गई।

मृतक छात्रा के रिश्तेदार रोहित के अनुसार पहले तन्नू का इलाज खतौली के एक हॉस्पिटल में चल रहा था। तन्नू के पेट में काफी दिनों से दर्द की शिकायत थी। डॉक्टरों ने ज्यादा हालत बिगड़ने के चलते पल्लवपुरम स्थित शिवलोक हॉस्पिटल में रेफर कर दिया था। गुरुवार को तन्नू की तबीयत अधिक बिगड़ गई। उन्होंने हालत बिगड़ने पर तन्नू को दूसरे अस्पताल में ले जाने के लिए हॉस्पिटल के डॉक्टरों से कहा, लेकिन डॉक्टरों ने इनकार कर दिया। छात्रा के परिवार वालों का आरोप है कि हॉस्पिटल के डॉक्टरों की लापरवाही के चलते तन्नू की मौत हो गई।

Share.

About Author

Leave A Reply