Sunday, June 23

पुलिसवालों को खाली करने होंगे मकान

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 27 फरवरी (प्र)। मेरठ पुलिस लाइन में रहने वाले करीब दो सौ पुलिसकर्मियों को मकान खाली करने के लिए नोटिस दिया गया है। पुलिस लाइन में रहने वाले ये पुलिसकर्मी फिलहाल जिले से बाहर ट्रांसफर हो चुके हैं। कुछ पुलिसकर्मियों पर लाखों रुपये का बकाया है और रिकवरी के लिए नोटिस भेज दिया गया है। इस संबंध में मुख्यालय को भी सूचना दी गई है और इस रकम को संबंधित पुलिसकर्मियों की तनख्वाह से काटने के लिए सुझाव दिया गया है।

पुलिस लाइन मेरठ में कुछ पुलिसकर्मियों ने गैर जनपद में ट्रांसफर होने के बाद भी आवास खाली नहीं किए हैं। ऐसे करीब 200 पुलिसकर्मियों की लिस्ट एसपी ट्रैफिक राघवेंद्र कुमार मिश्रा की ओर से बनाई गई थी। इन सभी पुलिसकर्मियों को एसएसपी मेरठ की ओर से नोटिस भेजकर आवास खाली करने के लिए कह दिया गया है। वहीं, ये भी बताया गया है कि इन पुलिसकर्मियों से कई ऐसे पुलिसकर्मी भी हैं, जिनका ट्रांसफर एक साल या उससे ज्यादा समय पहले हो चुका है इसके बावजूद आवास खाली नहीं किये गए। इस पर यह प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। वहीं, इस कार्रवाई के दौरान कुछ पुलिसकर्मियों ने अधिकारियों के सामने पेश होकर बताया है कि उनके बच्चों की इस साल की पढ़ाई यहां मेरठ में ही हो रही है। ऐसे में इस शिक्षा सत्र तक के लिए आवास रहने दिया जाए।

कुछ पुलिसकर्मियों पर 25 लाख तक बकाया
पुलिस अधिकारियों के अनुसार पुलिस लाइन में सालों से रह रहे कुछ पुलिसकर्मियों पर 25 लाख रुपये तक बकाया है। फिलहाल ऐसे पुलिसकर्मियों की संख्या 10 से ज्यादा है। इसके अलावा कुछ पुलिसकर्मियों पर 15 लाख से 23 लाख रुपये के बीच में बकाया है। वहीं कुल मिलाकर 50 हजार से लेकर 25 लाख रुपये तक की बकाया रकम की लिस्ट अलग-अलग तैयार की गई है।

एसएसपी रोहित सिंह सजवाण का कहना है कि पुलिस लाइन में रहने वाले पुलिसकर्मियों को ट्रांसफर के बाद आवास खाली करना होता है, ताकि जिले में आने वाले नए पुलिसकर्मियों को ये आवास दिए जा सकें। जिन लोगों ने आवास खाली नहीं किए हैं, उन्हें नोटिस दिए गए हैं। बाकी प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है।

Share.

About Author

Leave A Reply