Thursday, May 30

रेव पार्टियों में नशे के लिए पहुंचाया जा रहा सांप का जहर, एफआईआर दर्ज

Pinterest LinkedIn Tumblr +

नोएडा 03 नवंबर। बिग बॉस विजेता एल्विश यादव और उनके साथियों के खिलाफ नोएडा पुलिस ने गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज की है. एल्विश यादव और उनके साथियों पर रेव पार्टियों में नशे के लिए सांप का जहर पहुंचाने का आरोप लगा है. पुलिस ने 6 तस्करों को भी पकड़ा है और एफआईआर में एल्विश यादव का भी नाम है.

सेक्टर 51 सैफरन वेंडिंग विला में रेव पार्टी की सूचना पर पुलिस और वन विभाग की टीम जॉइंट रेड की. रेड के दौरान जहरीले सांपों की तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया गया. पकड़े गए तस्करों में BIG BOSS फेम एल्विश यादव का भी नाम शामिल है. यह गैंग पार्टियों में सांपों के जहर सप्लाई करने के लिए मोटी रकम वसूलते थे. वन विभाग की टीम ने छह तस्करों को दबोचा है और इनके पास से 9 जहरीले सांप भी बरामद किए है. आरोपियों के पास से 20 से 25 ML नशीला जहर भी बरामद किया गया है. पांच कोबरा, दो दोमुहे सांप, एक लाल सांप, एक अजगर शामिल है. वन विभाग ने वन जीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत मुकदमा दर्ज कराया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, तस्करों की गिरफ्तारी के दौरान मौके से एक व्यक्ति को भी पकड़ा गया, जिसे सांप का जहर दिया गया था। वहीं, सेक्टर-49 कोतवाली पुलिस की ओर से गिरफ्त में आए तस्करों से पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि पूछताछ के दौरान इस गिरोह के अन्य लोगों के सक्रिय होने की बात भी सामने आ रही है, जिन्हें जल्द गिरफ्तार किया जा सकता है। पुलिस की ओर से की गई जांच में सामने आया है कि गिरफ्त में आए सक्रिय सांप तस्कर मेट्रो सिटी में होने वाली रेव पार्टियों में जहरीले सांपों का जहर सप्लाई करके लाखों की कमाई करते थे। इतना ही नहीं, गिरफ्तार हुए तस्करों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि वे प्रतिबंधित प्रजाति के अजगरों को आसपास के जंगलों से नहीं बल्कि नेशनल पार्क से पकड़कर लाते थे और फिर भारी रकम में उन्हें बेच देते थे।

पुलिस ने आरोपियों से हुई पूछताछ के बाद खुलासा करते हुए बताया कि दस ग्राम जहर की शीशी की कीमत एक लाख रुपये से ज्यादा की होती है। सांप के जहर की इंटरनेशनल मार्केट में कीमत करोड़ों रुपये में है। पुलिस ने बताया कि गिरोह के बारे में जानकारी मिली है कि यह सांपों के जहर के साथ-साथ सांपों की भी तस्करी करते थे। पूछताछ में सामने आया है कि सांप बेचने से भी बड़ा धंधा जहर को रेव पार्टियों तक पहुंचाने का है। इतना ही नहीं, जहर की तस्करी के तार गाजियाबाद, मथुरा के तस्करों से जुडे़ हैं। जांच में पता चला है कि ये तस्कर गाजियाबाद के एक व्यक्ति को सांपों के जहर की सप्लाई करते थे। अब पुलिस उस शख्स की भी तलाश कर रही है।

Share.

About Author

Leave A Reply